तकदीर वाले वे हैं, जो करते हैं माँ की भक्ति अपार - पं ऋषिशर्मा

Dec 20, 2023 - 20:40
 0  91
तकदीर वाले वे हैं, जो करते हैं माँ की भक्ति अपार - पं ऋषिशर्मा

नटवर स्कूल में भव्य दादी भागवत का आयोजन

रायगढ़ - - शहर के नटवर स्कूल मैदान में दादी सेवा समिति की अभिनव पहल से छत्तीसगढ़ में पहली बार ऐतिहासिक एवं यादगार ढंग से दादी भागवत का तीन दिवसीय आयोजन कार्यक्रम संयोजिका आशा अग्रवाल टाइटन व दादी सेना की विशेष पहल से विगत 19 से 21 दिसंबर तक दोपहर तीन बजे से शाम छह बजे तक व इसके पश्चात रात दस बजे तक भजन संध्या और दादी महाभंडारा किया जा रहा है। व्यासपीठ पर विराजित हैं देश के सुप्रसिद्ध कथा वाचक गोरेगांव मुंबई से पधारे पं ऋषि जो अपने दिव्य प्रवचनों व मधुर भजनों से हजारों श्रद्धालुओं को निहाल कर रहे हैं। वहीं आज कथा के दूसरे दिन दादी माता के बनाए गए मनभावन व खूबसूरत दिव्य दरबार में दादी रानी सती की विशेष पूजा - अर्चना व महाआरती की गई। इसके पश्चात दादी कथा का रसपान श्रद्धालुओं ने किया।

शास्त्रों में पुत्री होने पर कोई भेद नहीं - - व्यासपीठ पर विराजित उद्भट विद्वान पं ऋषि शर्मा ने दादी सती कथा प्रसंग के अंतर्गत हजारों कथा का रसपान कराते हुए कहा कि घर में पुत्री के जन्म लेने पर हमारे शास्त्रों में व सनातन में कोई भेद नहीं किया गया है। पुत्र एवं पुत्री दोनों को समानता दी गई है। परंतु वर्तमान परिवेश में भेद किया जा रहा है। यह अत्यधिक दुख की बात है और चिंता का विषय है। हर मनुष्य को चाहिए कि पुत्री को भी पुत्र की भांति स्नेह व समानता दें तभी जीवन व जग का कल्याण होगा। इस तरह से अनेक पावन अमृतमयी कथाओं का रसपान व दादी जी की लीलाओं का वर्णन सुनाए। जिसे सुनकर उपस्थित हजारों श्रद्धालुगण मुग्ध हो गए। वहीं पं ऋषि शर्मा ने कथा प्रसंग के दौरान संगीत टीम के साथियों के साथ अनेक मधुर भजन गीत सुनाकर हर किसी के हृदय व मन को मुग्ध कर दिए और सभी लोग भावविह्ल होकर हृदय से मस्त झूमने लगे। वहीं कथा प्रसंग के अंतर्गत कथा स्थल में बच्चियों ने भी मधुर भजन गीतों में मनभावन प्रस्तुति देकर सभी को हर्षित किया। 

पहली बार दादी म्यूजिकल भजन हौजी - - आज के कार्यक्रम की सबसे बड़ी खासियत यह रही कि छत्तीसगढ़ में पहली बार निःशुल्क दादी भजनों के साथ म्यूजिकल हौजी का शानदार व यादगार आयोजन सूरत से पधारीं देश की सुप्रसिद्ध मधुर भजन गायिका सुरभि बिरजूका के सानिध्य में कर्णप्रिय संगीत - गीत के साथ शाम 6 बजे से रात नौ बजे तक किया गया। जिसमें हजारों श्रद्धालुओं ने भाग लिया और इस कार्यक्रम का भरपूर लुत्फ़ उठाया। वहीं मधुर भजन गीतों के साथ सभी युवतियां व महिलाएं निहाल होकर झूमती रहीं। इस धार्मिक भव्य आयोजन की उपस्थिति सभी लोगों ने बेहद सराहना की। इसी तरह भजन गायिका सुरभि बिरजूका ने एक से बढ़कर एक मधुर भजन गीतों की मनभावन प्रस्तुति देकर कार्यक्रम में चार चांद लगा दिया और सभी का मन व हृदय खुशी से झूम उठा। वहीं आज कथा प्रसंग के दूसरे दिन पूरा कथा स्थल हजारों श्रद्धालुओं की उपस्थिति में पूरी तरह से भर गया। वहीं अनेक लोग श्रद्धा से खड़े होकर इस धार्मिक आयोजन का आनंद लिया। 

आज चरण पादुका उत्सव - - तीन दिवसीय दादी भागवत के भव्य धार्मिक आयोजन के अंतर्गत आज 21 दिसंबर को तीसरे दिन कथा स्थल में सुबह दस बजे से चरण पादुका उत्सव दादी सेना एवं कोलकाता के पंडित ग्रुप द्वारा शानदार प्रस्तुति होगी। इसके पश्चात दोपहर दो बजे से शाम पांच बजे तक सुप्रसिद्ध कथा वाचक पं ऋषि शर्मा के मुखारविंद से पावन भागवत कथा की अमृतमयी रसधारा बहेगी व शाम पांच बजे से साढ़े पांच बजे तक दादी भक्तों का मधुर भजन होगा। इसी तरह शाम छह बजे से रात दस बजे तक कोलकाता से पधारे देश के सुप्रसिद्ध भजन गायक केशव मधुकर द्वारा भजनों की यादगार प्रस्तुति होगी। वहीं दादी समिति व दादी सेना के इस ऐतिहासिक धार्मिक आयोजन में पूरे देश - विदेश से श्रद्धालुगण बड़ी श्रद्धा से शामिल हो रहे हैं और इस भव्य आयोजन की सर्वत्र सराहना हो रही है। 

भव्यता देने में जुटे सदस्यगण - - कार्यक्रम की संयोजिका आशा अग्रवाल टाइटन ने बताया कि इस ऐतिहासिक टीम में 64 सदस्यगण जुटे हैं।जिसके अंतर्गत कमेटी टीम में विनिता, कांता, शीतल, नीमा गर्ग व दादी सेवा समिति अध्यक्ष श्रीमती ललिता अग्रवाल, कोषाध्यक्ष श्रीमती ममता भालोटिया, सचिव ममता - कमल गर्ग, विनिता मित्तल, किरण बजरंग मित्तल, मीना आनंद बेरीवाल, संतोष चिराग, शीतल बालाजी हेंडलूम, नीमा रमन जिंदल, अनीता, पूनम गर्ग, रोमी विकास निगानिया सहित पूरे 64 सदस्यगण तीन दिवसीय इस धार्मिक आयोजन को भव्यता देने में जुटे हैं।

इसी तरह कार्यक्रम सहयोगी सुनील अग्रवाल, मुकेश मित्तल कलानोरिया, आनंद बेरीवाल, सुभाष चिराग, अनिल अग्रवाल एयरटेल, कमल मित्तल, आलोचन गुप्ता, अमित मोदी सीए , कमल गर्ग (सुहागन) , संजय कालू, संदीप अग्रवाल उषा सहित, विकास निगानिया, घनश्याम अग्रवाल, गौरी शंकर नरेड़ी, सतीश चरक, पप्पू गर्ग राजेश चिराग सहित अनेक सदस्यों की विशेष उपस्थिति रही।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow