स्वर्ग जैसे सुशोभित दिव्य दरबार में दादी सती का भव्य आयोजन 

Dec 20, 2023 - 07:52
 0  872
स्वर्ग जैसे सुशोभित दिव्य दरबार में दादी सती का भव्य आयोजन 

नटवर स्कूल मैदान में तीन दिवसीय दादी भागवत का शुभारंभ 

रायगढ़ - - दिव्य दादी जी के दरबार की खूबसूरती हर किसी के चित्त को अत्यंत आकर्षित कर रही है साथ ही हर किसी के मन व हृदय को भी इस कदर मुग्ध कर रही है कि हर किसी की जुबान से यही अनायास निकल रहा है कि सचमुच में स्वर्ग के देवी स्थल से दादी सती माता नटवर स्कूल के मैदान में बनाए गए दिव्य दरबार में आकर विराजित हो गई हैं। वहीं आज कथा शुभारंभ के पुनीत पल में पावन कथा स्थल पर जब दोपहर तीन बजे दादी जी की सैकड़ों श्रद्धालुओं ने महाआरती कर जय - जयकारे लगाए तो समूचा अंचल आध्यात्मिक संदल की खूशबू से सुवासित होकर महकने लगा तो महारानी सती की जय - जय हो से गूंजित हो गया और भाव विभोर होकर सैकड़ों श्रद्धालुगण मस्त झूमने लगे।

कलश यात्रा से हुआ शुभारंभ - - भव्य तीन दिवसीय दादी भागवत का शुभारंभ आज गांधी गंज में स्थित दादी माता के मंदिर में पूजा - अर्चना कर। दादी माता को सवा मनी मेंहदी से श्रृंगार कर मेंहदी उत्सव मनाया गया। जिसमें दादी समिति की सभी श्रद्धालु महिलाएं शामिल हुईं और दादी जी के जयकारे से मंदिर परिसर गूंजित हो गया।इसके पश्चात मंदिर परिसर से कलश शोभा यात्रा निकाली गई। जिसमें आयोजन संयोजिका आशा अग्रवाल टाइटन - सुनील अग्रवाल, भागवत कथा वाचक ऋषि शर्मा व सभी श्रद्धालु शामिल हुए और यह कलश यात्रा नटवर स्कूल मैदान दादी जी के भव्य मनभावन पंडाल पहुंची जहां पूजा - अर्चना व महाआरती कर दादी भागवत का शुभारंभ गोरेगांव मुंबई से पधारे देश के सुप्रसिद्ध कथा वाचक पं ऋषि शर्मा ने शुभारंभ किया।वहीं उन्होंने बहुत ही मधुर भजन गीत गौरी नंदन करुँ अभिनंदन सुनाकर सभी को मुग्ध कर दिए। जिसे सुनकर उपस्थित सभी श्रद्धालुगण भावविभोर होकर झूमने लगे। 

सात तत्व का जीवन में विशेष महत्व है - - कथा शुभारंभ के पहले दिन दादी सती भागवत की पावन कथा सुनाते हुए व्यासपीठ पर विराजित पं ऋषि शर्मा ने कहा कि धर्म और धरती को सात तत्वों ने धारण किया है। वहीं उन्होंने कहा कि जीवन में गौ माता, ब्राम्हण, वेद, सती, निर्लोभ, सत्य व दान का विशेष महत्व है। यदि कोई मनुष्य इन सातों तत्वों को अपने जीवन में महत्व देना छोड़ दें तो जीवन नर्क सा हो जाएगा। इसलिए इन्हें अवश्य महत्व देना चाहिए। इसी तरह उन्होंने बड़े ही सहज सरल ढंग से सती की परिभाषा व संतो के महत्व को विस्तार से सुनाए जिसे सुनकर सैकड़ों श्रद्धालुगण अत्यंत मुग्ध हो गए। इसी तरह उन्होंने कथा प्रसंग के अंतर्गत अनेक पावन कथाओं का रसपान श्रद्धालुओं को कराए। 

यादगार मेंहदी उत्सव का आयोजन - - कार्यक्रम के पहले दिन आज कथा प्रवचन के पश्चात शाम छह बजे से कोलकाता से पधारे मशहूर भजन गायक मूलचंद बजाज एवं खरसिया से पधारे भजन गायक अभिषेक अग्रवाल ने मेंहदी उत्सव कार्यक्रम के अन्तर्गत शानदार मधुर भजनों की प्रस्तुति देकर कार्यक्रम में चार चांद लगा दिए। इसी तरह दादी भागवत के रचियता गोरेगांव मुंबई के पं रमाकांत शर्मा परिवार से पधारे उनके छोटे सुपुत्र विजय शर्मा, श्रीमती ऋतु शर्मा व अजय शर्मा उनकी अर्द्धागिंनी श्रीमती नंदा शर्मा का दादी सेवा समिति के सदस्यों व आयोजन की संयोजिका श्रीमती आशा अग्रवाल टाइटन - सुनील अग्रवाल ने आत्मीय स्वागत किया। इसी तरह कथा प्रसंग के अंतर्गत सैकड़ों श्रद्धालुगण मधुर भजन गीतों के साथ भाव विभोर होकर झूमते रहे। वहीं आज सौरभ मधुकर जी कोलकाता व सुप्रसिद्ध भजन सिंगर सुरभि बिरजुका जी सूरत अपने टीम के कलाकार के साथ शिरकत कर कार्यक्रम को यादगार बनाएंगे। इसी तरह धार्मिक इस कार्यक्रम का समय दोपहर दो बजे से शाम छह बजे तक व इसके पश्चात रात दस बजे तक मधुर भजन व महाभंडारा का कार्यक्रम निर्धारित किया गया है। 

भव्यता देने में जुटे सदस्यगण - - उन्होंने बताया कि इस ऐतिहासिक टीम में 64 सदस्यगण जुटे हैं।जिसमें के अंतर्गत कमेटी टीम में विनिता, कांता, शीतल, नीमा गर्ग व दादी सेवा समिति अध्यक्ष श्रीमती ललिता अग्रवाल, कोषाध्यक्ष श्रीमती ममता भालोटिया, सचिव ममता - कमल गर्ग, विनिता मित्तल, किरण बजरंग मित्तल, मीना आनंद बेरीवाल, संतोष चिराग, शीतल बालाजी हेंडलूम, नीमा रमन जिंदल, अनीता, पूनम गर्ग, रोमी विकास निगानिया सहित पूरे 64 सदस्यगण तीन दिवसीय इस धार्मिक आयोजन को भव्यता देने में जुटे हैं। इसी तरह कार्यक्रम सहयोगी सुनील अग्रवाल, मुकेश मित्तल कलानोरिया, आनंद बेरीवाल, सुभाष चिराग, अनिल अग्रवाल एयरटेल, कमल मित्तल,आलोचन गुप्ता, अमित मोदी सीए , कमल अग्रवाल, संजय कालू, संदीप अग्रवाल उषा सहित, विकास निगानिया घनश्याम अग्रवाल, गौरी शंकर नरेड़ी, सतीश चरक, पप्पू गर्ग राजेश चिराग सहित अनेक सदस्यों की विशेष उपस्थिति रही।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow